अल्मोड़ा – पाइन वुड स्कूल, अल्मोड़ा में मातृ दिवश (मदर्स डे ) बड़े ही धूमधाम से मनाया गया। बच्चो के द्वारा विभिन्न रंगारंग कार्यक्रमो ने सभी का मन मोह लिया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि एवं वक्ता के रूप में वरिष्ठ वैज्ञानिक, लेखक एवं यूनेस्को समावेशी निति प्रयोगशाला के विशेषज्ञ डॉ रमेश सिंह पाल उपस्थित रहे। डॉ पाल ने अपने व्याख्यान में बच्चो एवं अभिभावकों को सम्बोधित करते हुए कहा की मातृत्व एक साधना है और एक सफल मातृत्व जीवन से बड़ी कोई और साधना नहीं है।

डॉ पाल ने कहा कि प्रत्येक बच्चा अपने में अद्वित्य और विशेष है, इसलिए अभिभावकों को चाहिए की वे अपने बच्चे की तुलना किसी दूसरे बच्चे से न करे । साथ ही शिक्षको तथा माता-पिता का ये दायित्व बनता है कि वे अपने बच्चे की प्रतिभा को पहचाने और उसे उसी प्रतिभा में उत्कृष्ठ कार्य करने के अवसर प्रदान करे। साथ ही डॉ पाल ने इस बात पर भी जोर दिया कि हम बच्चो को घर तथा स्कूल में एक खुला एवं सहजता पूर्ण वातावरण प्रदान करे ताकि वे खुलकर जीवन जी सके और परिवार तथा समाज का नाम रोशन कर सके।

डॉ रमेश सिंह पाल ने समस्त विद्यालय परिवार का तथा विशेषतः प्रधानाध्यापिका का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर विद्यालय परिसर में बच्चो, अभिभावकों के साथ-साथ प्रधानाध्यापिका राबिया जीना तथा समस्त शिक्षकगण मौजूद रहे ।