चम्पावत

मुख्य विकास अधिकारी आर एस रावत द्वारा जिला कार्यालय
सभागार में विभागीय अधिकारियों के साथ वित्तीय वर्ष 2022-23 अन्तर्गत जिला, राज्य केन्द्र व वाह्य सहायतित योजनान्तर्गत विभागों को आवंटित धनराशि के सापेक्ष संचालित विकास कायों एवं धनराशि व्यय की विभागवार समीक्षा के दौरान अधिकारियों को निर्देश दिए कि शासन से जितनी भी धनराशि विभागों को वर्तमान तक प्राप्त हुई है, उसका शतप्रशित उपयोग माह नवम्बर अंतिम सप्ताह तक पूर्ण कर लिया जाय।धनराशि समय पर खर्च हो सम्बंधित विभाग के अधिकारी की यह जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारी यह कतई न सोचै कि धनराशि मार्च तक व्यप करनी है, उनका यह प्रयास रहना चाहिए कि प्राप्त धनराशि को समय पर व्यय कर विकास कार्यों को ससमय पूर्ण कर लिया जाय ताकि जनता को योजनाओं का लाभ समय पर मिल सके। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि चम्पावत जिला एक मॉडल जिला बनाया जा रहा है इस हेतु सभी अधिकारी पूर्ण जिम्मेदारी से कार्य करें। कार्यदायी संस्थाएं निर्माण कार्यों को समय से गुणकता व पारदर्शिता के साथ पूर्ण कराएँ, जो विभाग जिले में नया अभिनव कार्य कर रहे हैं उस सम्बंध में उच्चाधिकारियों के साथ ही माननीय जनप्रतिनिधियों को भी अवगत कराया जाय सभी विभाग रोजगार परख योजनाओं को प्राथमिकता दें।
    बैठक में अवगत कराया कि जिले में चारों योजनाओं के अन्तर्गत मांह अक्टूबर तक 92.8 प्रतिशत अवमुक्त धनराशि के सापेक्ष लगभग 72 प्रतिशत धनराशि विभागों द्वारा व्यय कर ली गयी है। जिला योजनातर्गत लगभग 40 प्रतिशत धनराशि व्यय होने पर सीडीओ द्वारा कम व्यय करने वाले विभागों को निर्देश दिये कि वह धनराशि व्यय करने में तेजी लाएं। बैठक में अवगत कराया कि जिला योजनान्तर्गत वर्तमान तक 4282.00 लाख परिव्यय के सापेक्ष 2854.68 लाख की धनराशि शासन से जिले को अवमुक्त की गई है। राज्य योजना
में 5699.44 लाख के सापेक्ष शत प्रतिशत तथा केंद्रांश में 7972.04 लाख धनराशि के सापेक्ष शत प्रतिशत धनराशि शासन से अवमुक्त हो गई।
     बीस सूत्रीय कार्यक्रम की समीक्षा के दौरान 9 मद वर्तमान में डी श्रेणी में है जिन्हें ए श्रेणी लाने हेतु सम्बंधित विभागों के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये गए। बैठक में सभी विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

👉 इसे भी देखे – शहर मे सीसीटीवी कैमरा व साइनेज को सुव्यवस्थित ढंग से लगाए – जिलाधिकारी वंदना


👉 इसे भी देखे – नगर व्यापार मंडल ने तहसील पुनः नगर में लगें को चलाया हस्ताक्षर अभियान



👉 इसे भी देखे – बैंक की सीएसआर योजना के तहत चम्पावत पुलिस को 10 मोटरसाइकिलों को दिखाई हरी झंडी





👉 इसे भी देखे – न्यायालय परिसरों,अस्पतालों, शैक्षिक संस्थानों एवं मुख्यमंत्री के कैम्प कार्यालय के 100 मीटर क्षेत्र को किया SILENCE ZONE घोषित