चम्पावत –

सरदार बल्लभ भाई पटेल जी के जन्म दिवस 31 अक्टूबर *राष्ट्रीय एकता दिवस* के उपलक्ष्य में चंपावत जिले के मिनी स्टेडियम बनबसा से एनएचपीसी गेस्ट हाउस बनबसा तक आयोजित Run For Unity (रैली) में बतौर मुख्य अतिथि प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा प्रतिभाग कर एकता दौड़ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इससे पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा सभी प्रतिभागियों को राष्ट्रीय एकता की शपथ भी दिलाई। एकता दौड़ में सामिल होकर एनएचपीसी गेस्ट हाउस पहुंच कर माननीय मुख्यमंत्री ने सरदार बल्लभ भाई पटेल के चित्र पर पुष्प अर्पित किए।
बनबसा मिनी स्टेडियम में अपने संबोधन में माननीय मुख्यमंत्री ने कहा की सरदार बल्लभ भाई पटेल जी ने एकीकरण का नारा दिया था। देश में 562 से भी ज्यादा रियासतै जो अलग अलग तरीके से छिन्न भिन्न रह गई थीं, उन सबको एक सूत्र में पिरोने का काम सरदार बल्लभ भाई पटेल ने ही किया था। इसलिए उन्हें आजाद भारत के इतिहास में लौह पुरुष की संज्ञा दी गई । उन्होंने कहा कि हमारे देश के अंदर सरदार बल्लभ भाई पटेल जैसे जांबाज लौह पुरुष पैदा हुए वहीं देश के अंदर शंकराचार्य जी ने पूरब से लेकर पश्चिम, उत्तर से लेकर दक्षिण तक एक सूत्र में पिरोने का कार्य किया, वहीं आज हमारे देश के अंदर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में देश को कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक, एक छोर से दूसरे छोर तक, एक भारत श्रेष्ठ भारत की जो कल्पना, संकल्प है उसे भी एक सूत्र में पिरोने का कार्य कर रहे हैं। आज पूरी दुनिया के अंदर भारत का मान सम्मान एवं स्वाभिमान बड़ रहा है। आज का भारत उनके नेतृत्व में श्रेष्ठता की और बड़ रहा है। जिस समय पूरा विश्व कोरोना महामारी से जूझ रहा था उस समय मोदी जी के नेतृत्व में देश ने वैश्विक महामारी कोरोना लड़ने के लिए दो-दो स्वदेशी वैक्सीन बनाने का कार्य सरकार ने किया, वहीं दो-दो वैक्सीन के बाद आज बूस्टर डोज भी आज निशुल्क लगाई जा रही है। देश में गरीबों के घर का चूल्हा जलते रहे, कोई भी भूखा न रहे इसके लिए गरीब कल्याण अन्न योजना चलाई और जिससे हर किसी को इस योजना का लाभ मिल रहा है। उन्होंने कहा कि देश आजादी का अमृत महोत्सव पर देश की उपलब्धियों पर जश्न मना रहा है। आने वाले 25 साल जब देश आजादी का शताब्दी वर्ष मनाएगा तब ये 25 साल देश के लिए बेहद महत्वपूर्ण होंगे। इन 25 सालों में देश हर क्षेत्र में आगे बड़ने वाला है। मोदी जी के नेतृत्व में भारत आज आगे बड़ रहा है जिसमें युवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका होने वाली है। उन्होंने कहा आने वाले 25 साल अमृतकाल के रूप में हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं हमने उत्तराखण्ड के लिए संकल्प लिया है कि आने वाले दो सालों में हम प्रदेश को टीबी मुक्त करेंगे। मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि 2025 तक उत्तराखण्ड को नशा मुक्त बनाने का लक्ष्य रखा गया है। नशा से मुक्ति के लिए सबको दृ़ढ़ संकल्प लेना होगा और अन्य लोगों को भी नशा मुक्ति के प्रति जागरूक करना होगा। उन्होंने कहा कि एक अच्छे समाज के लिए सबका स्वस्थ शरीर होना जरूरी है। स्वस्थ मन, वचन, एवं कर्म के लिए मनुष्य का निरोगी होगा जरूरी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत को विश्वगुरू बनाने के लिए सबको अपना योगदान देना होगा। हमारी युवा पीढ़ी जो आने वाले समय में देश के कर्णधार होंगे, उन्हें सही दिशा मिलनी जरूरी है।
इस दौरान प्रदेश अध्यक्ष भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष शशांक रावत, भाजपा जिलाध्यक्ष दीप पाठक, भाजपा प्रदेश मंत्री हेमा जोशी, नगर पंचायत अध्यक्ष बनबसा रेनू अग्रवाल, पुलिस अधीक्षक देवेंद्र पींचा, मुख्य विकास अधिकारी राजेंद्र सिंह रावत, अपर जिलाधिकारी हेमंत कुमार वर्मा समेत विभिन्न विभागीय अधिक आदि मौजूद रहे।

👉 इसे भी देखे – शासन से जितनी भी धनराशि विभागों को वर्तमान तक प्राप्त हुई है, उसका शतप्रशित उपयोग नवम्बर अंतिम सप्ताह तक पूर्ण करें -आर एस रावत






👉 इसे भी देखे – नगर व्यापार मंडल ने तहसील पुनः नगर में लगें को चलाया हस्ताक्षर अभियान



👉 इसे भी देखे – बैंक की सीएसआर योजना के तहत चम्पावत पुलिस को 10 मोटरसाइकिलों को दिखाई हरी झंडी





👉 इसे भी देखे – न्यायालय परिसरों,अस्पतालों, शैक्षिक संस्थानों एवं मुख्यमंत्री के कैम्प कार्यालय के 100 मीटर क्षेत्र को किया SILENCE ZONE घोषित